Gujarat Exclusive > देश-विदेश > WHO ने मोदी के फैसले का किया स्वागत, कहा- कोरोना को हराने में देशव्यापी तालाबंदी से…

WHO ने मोदी के फैसले का किया स्वागत, कहा- कोरोना को हराने में देशव्यापी तालाबंदी से…

0
620

कोरोना वायरस की महामारी के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत में लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ाए जाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऐलान का स्‍वागत किया है. WHO की क्षेत्रीय निदेशक डॉ पूनम खेत्रपाल सिंह ने कहा, “विश्व स्वास्थ्य संगठन COVID-19 की रोकथाम के लिए भारत द्वारा समय पर उठाए गए सख्त कदमों की सराहना करता है.अभी इसके नतीजों के बारे में बात करना जल्दबाज़ी होगी, लेकिन कोरोना वायरस के मरीज़ों की पहचान, आइसोलेशन तथा उनके संपर्क में आए लोगों को ट्रेस करने के साथ-साथ प्रभावी ढंग से सोशल डिस्‍टेंसिंग कायम करने में छह सप्ताह का देशव्यापी लॉकडाउन काफी मददगार होगा.’

WHO ने कहा है कि बड़ी और बहुत-सी चुनौतियों के बावजूद भारत ने महामारी से लड़ने के प्रति दृढ़ कटिबद्धता का प्रदर्शन किया है. इस कठिन समय में जितनी ज़िम्मेदारी प्रशासन तथा मेडिकल कर्मियों की है, उतनी ही समाज की भी है. यह समय सभी के लिए पूरी क्षमता से योगदान देने और मिलकर वायरस को हराने का है.” गौरतलब है कि कोरोना वायरस की चुनौती और देश में जारी लॉकडाउन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राष्‍ट्र के नाम संबोधन में देशवासियों के संघर्ष के जज्‍बे की जमकर सराहना की. पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि कोरोना के खिलाफ भारत की लडाई मजबूती के साथ आगे बढ़ रही है. आप सभी देशवासियो की तपस्‍या और त्‍याग की वजह से भारत अब तक कोरोना से होने वाले नुकसान को काफी हद तक कम करने में सफल रहा है इस दौरान प्रधानमंत्री ने स्‍पष्‍ट किया कि विभिन्‍न राज्‍यों से मिले सुझावों को ध्‍यान में रखते हुए लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाया गया है. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि जो राज्‍य कोरोना वायरस के खिलाफ सख्‍ती रखते हुए अपने शहरों/क्षेत्रों में हॉटस्‍पॉट (कोराना वायरस से सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्र) नहीं बनने देंगे, वहां 20 अप्रैल से जरूरी गतिविधियों की इजाजत दी जाएगी.

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना के खिलाफ यह जंग जारी रखे हुए हमें सतर्कता बरतनी होगी, हालात पर कड़ी नजर रखनी होगी और कठोर कदम उठाने होंगे. उन्‍होंने कहा कि नए हॉटस्‍पाट बनना हमारे लिए नई चुनौती पेश करेगा. आगे की चुनौती का जिक्र करते हुए उन्‍होंने कहा कि अगले एक सप्‍ताह में कोरोना के खिलाफ कड़ाई बढ़ाई जाएगी. हर राज्‍य को परखा जाएगा, इसमें लॉकडाउन का कितना पालन किया है, इसका मूल्‍यांकन किया जाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि जो क्षेत्र अपने यहां नए हॉटस्‍पॉट नहीं बनने देगे, जहां कोरोना के संक्रमण के फैलने की संभावना कम होगी, वहां 20 अप्रैल से जरूरी गतिविधियों की अनुमति दी जाएगी.

मुश्किल वक्त में मदद करने को तैयार ‘आरोग्य सेतु एप’, 1 करोड़ से ज्यादा लोग कर चुके हैं डाउनलोड