Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद ट्रैफिक पुलिस को मिला टार्गेट, पूरा करने के लिए वसूला जा रहा भारी जुर्माना

अहमदाबाद ट्रैफिक पुलिस को मिला टार्गेट, पूरा करने के लिए वसूला जा रहा भारी जुर्माना

0
417

अहमदाबाद: शहर में जहां एक तरफ किश्तों में सूदखोर वसूली कर रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ ट्रैफिक पुलिस भी कोरोना संकटकाल में जमकर लोगों से वसूली कर रही है. Ahmedabad Traffic Police

पुलिस के वसूली से परेशान लोग अब ऐसी चर्चा करने लगे हैं कि पुलिस टार्गेट दिया जा रहा है, इसे पुरा करने के लिए आम जन को परेशान किया जा रहा है. अहमदाबादवासी ट्रैफिक नियमों का पालन ठीक तरीके से कर रहे हैं.

जिसकी वजह से पुलिस मिला टार्गेट पूरा नहीं हो रहा है. इसलिए अब ट्रैफिक पुलिस गलत तरीके से मोटर चालकों को लक्ष्य पूरा करने के लिए परेशान कर रही है.

दैनिक टार्गेट को पूरा करने के लिए अपनाया जा रहा अलग-अलग तरीका

अहमदाबाद ट्रैफिक पुलिस कोरोना संक्रमण के बीच आर्थिक रूप से परेशान लोगों से जबरदस्ती जुर्माना वसूल रही है. शहर ट्रैफिक पुलिस को दैनिक लक्ष्य दिया जाता है. जुर्माना वूसलने के लिए नए-नए तरीके अपनाया जा रहा है.

अहमदाबाद ट्रैफिक पुलिस रोंग साइड के नाम पर जुर्माना वसूल रही है. दुपहिया वाहन चालकों से दो हजार रुपये वसूले जा रहे हैं. अहमदाबाद की ट्रैफिक पुलिस भीड़ लगाकर एक जगह पर जमा होते हैं और लोगों का शिकार करते हैं.

बीते कुछ दिनों से दिखने वाले इस दृश्य को देखकर, सवाल उठता है कि कोरोना कहां गया?

कागजात होने के बाद भी लगाया जा रहा जुर्माना  Ahmedabad Traffic Police

अहमदाबाद शहर के लाल दरवाजा इलाके में, 8 से 10 पुलिसकर्मी कॉर्डन में खड़े होते हैं और सड़क पर चलने वाले लोगों को रोकते हैं और उन्हें परेशान करते हैं. Ahmedabad Traffic Police

हेलमेट और मास्क पहनने के बावजूद भी दोपहिया वाहन चालक को ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी भीड़भाड़ वाले इलाका लाल दरवाजा में रोक कर वाहन के कागजात मांगते हैं.

तमाम तरीके के कागजात दिखाने के बाद भी आज सुबह एक युवक पर पुलिस ने 2 हजार का जुर्माना लगा दिया. इतना ही नहीं जुर्माना नहीं भरने पर बाइक जमा करने की भी धमकी दी.

इससे पहले भी अहमदाबाद के खामासा इलाके में ट्रैफिक पुलिस की दादागीरी की तस्वीर सामने आई थी. जिसमें एक युवक पर 1,500 रुपये का जुर्माना लगाया.

लेकिन उसके पास सिर्फ 500 था इसलिए पुलिसकर्मियों ने उसके साथ जमकर मारपीट भी किया था. Ahmedabad Traffic Police

ऐसे में मांग उठने लगी है कि ट्रैफिक पुलिस के आला अधिकारी एक बार रास्ते पर आए और पुलिस किस तरीके से लोगों को परेशान कर रही है उसे अपनी आंखों से देखकर इसका कोई हल निकालें.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

PM मोदी के बाद पूर्व IPS संजीव भट्ट की पत्नी AMU छात्रों को करेंगी संबोधित