Gujarat Exclusive > देश-विदेश > पीएम मोदी को टीका लगने के बाद 4 गुना बढ़ी कोरोना टीकाकरण की रफ्तार

पीएम मोदी को टीका लगने के बाद 4 गुना बढ़ी कोरोना टीकाकरण की रफ्तार

0
217

PM Modi: भारत में कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरुआत धीमी हुई थी लेकिन जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना के टीके की पहली खुराक ली है तब से टीकाकरण अभियान की रफ्तार चार गुणा तेज हो गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैक्सीन की पहली डोज लेने के बाद योग्य लोगों से वैक्सीन लेने की अपील की थी. PM Modi

ब्लूमबर्ग और जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी की ओर से रविवार को जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार भारत ने रविवार तक करीब 21 मिलियन यानी करीब दो करोड़ 10 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई है. वहीं एक महीने पहले सिर्फ करीब 54 लाख कोरोना टीके दिए गए थे. प्रति 100 लोगों पर कोरोना वायरस टीके लगने का प्रतिशत भी 0.41 से बढ़कर 1.56 हो गया है. बीते शनिवार को ही सिर्फ एक दिन में रिकॉर्ड 16 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन दी गई हैं. PM Modi

यह भी पढ़ें: 160 फीट की ऊंचाई पर हवा में झूलते हुए तारों के बीच लीजिए स्काई डाइनिंग का आनंद

बता दें कि सरकार ने जब से 60 साल से अधिक उम्र और गंभीर बीमारी से ग्रसति 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन देने का ऐलान किया है तब से चार गुना तेजी से वैक्सीन लगाई गई. देश में 16 जनवरी को स्वास्थ्यकर्मियों को टीके लगाए जाने के साथ इस अभियान की शुरुआत हुई थी, जबकि कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मियों को वैक्सीन लगाने की शुरुआत दो फरवरी को हुई थी. 13 फरवरी को टीके की दूसरी खुराक देने का सिलसिला शुरू हुआ था. PM Modi

खात्मे की ओर कोरोना

इसी बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने रविवार को कहा कि भारत में कोविड-19 महामारी खात्मे की ओर बढ़ रही है और कोविड-19 टीकाकरण अभियान को राजनीति से दूर रखा जाना चाहिए. लोगों को टीके से जुड़े विज्ञान पर भरोसा और यह सुनिश्चित करना चाहिये कि उनके प्रियजनों को समय पर टीके लग जाएं. PM Modi

सर्टिफिकेट पर पीएम की तस्वीर पर सवाल

उधर मुख्यमंत्री और टीएमसी की अध्यक्ष ममता बनर्जी ने कोविड-19 टीकाकरण प्रमाण पत्रों पर प्रधानमंत्री की तस्वीर को लेकर उन पर कटाक्ष करते हुए कहा कि एक दिन ऐसा आयेगा जब देश का नाम नरेन्द्र मोदी के नाम पर रखा जाएगा. PM Modi

महिला दिवस के मौके उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि यहां महिलाएं सुरक्षित हैं. पीएम मोदी के प्यारे राज्य यूपी में महिलाएं असुरक्षित महसूस करती हैं. ममता बनर्जी ने खबरों का हवाला देते हुए कहा कि मोदी-शाह के ‘मॉडल राज्य’ गुजरात में पिछले दो वर्षों में प्रतिदिन बलात्कार की चार घटनाएं, हत्या की दो घटनाएं हुई हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें